Jharkhand Board

इंटरमीडिएट वार्षिक परीक्षा 2022: वस्तुनिष्ठ में 90% सूत्र पर रहेंगे गणित के प्रश्न, जाने कहाँ से पूछे जायेंगे वस्तुनिष्ठ में 90% सूत्र पर प्रश्न

0

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति, पटना

दोस्तों क्या आप भी बिहार बोर्ड इन्टरमीडिएट वार्षिक परीक्षा 2022 में देने वाले हैं तो आपके लिए यह पोस्ट काफी फायदेमंद होने वाला है। क्यूंकि दोस्तों आपका गणित का सारा सिलेबस में हुआ बदलाव। अगर आप भी गणित का सारा सिलेबस में हुआ बदलाव की जानकारी के बारे में नहीं जानते है तो निचे आपको गणित का सारा सिलेबस में हुआ बदलाव के बारे में जानना चाहते है। तो निचे आपको बताया गया है।

  • विशेषज्ञ प्रो. केसी सिन्हा ने परीक्षार्थियों को दिये ये टिप्स।
  • एक फरवरी को पहली पाली में होगी गणित विषय की परीक्षा।

इन मुख्य चैप्टर को जरूर पढ़े-

अल्जेबा से डिटरमिनाट और मैट्रिमेस इसे सकूलर फक्शंस कैलकुल से मैक्सिमा और मिनिमा प्रोबाबीलिटी, डिफसियल प्रॉफिसेंट, इनडेफटनीज़, इंट्रीगेशन एरिया बाउंडेड वाइ कर्ल्स, डिफरेशियल इक्वेशंस, बेक्टर से डॉट एंड क्रॉस प्रोडक्ट थी डायसेंसन में प्लेन एड स्ट्रेट लाइन, जिनियस प्रोग्रामिंग।

इन्टरमीडिएट वार्षिक सैद्धान्तिक परीक्षा, 2022 का एडमिट कार्ड हुआ जारी ,ऐसे करे डाउनलोड डायरेक्ट लिंक 

ऐसा रहेगा गणित विषय का प्रश्न पत्र पैटर्न।

  • कुल प्रश्न: 100 अंक के 138 प्रश्न पूछे जाएंगे।
  • वस्तुनिष्ठ प्रश्न: 100 प्रश्न एक-एक अंक का रहेगा। इसमें 50 प्रश्न का उत्तर देना अनिवार्य है।
  • लघु उत्तरीय प्रश्न: 30 प्रश्न दो अंक का रहेगा। इसमें 15 प्रश्न का उत्तर देना अनिवार्य है।
  • दीर्घ उत्तरीय प्रश्न: आठ प्रश्न पाच अंक का रहेगा। इसमें चार प्रश्न का उत्तर देना अनिवार्य है।

परीक्षा के 10 दिन पहले रखें इन बातों का ध्यान।

  • दस साल पहले के गणित का प्रश्न पत्र को बना डालें-
  • हर दिन तीन घंटा गणित विषय की तैयारी पर दें।
  • फॉर्मूला का अभ्यास लिख कर करे फॉर्मूला का चार्ट पेपर में बना कर उसे हर दिन एक बार पढ़े।
  • प्रश्न का उत्तर रटे नहीं बल्कि बनाने का प्रयास करें।
  • जो चैप्टर अभी तक नहीं पढ़ा है, उसे अब नये से पढ़ना शुरू नहीं करें।
  • अभी हर दिन जो आप पढ़े है उसे रिवाइज करें। इससे आत्मविश्वास आयेगा।

गणित में अच्छे अंक लाने हैं तो फॉर्मूला पर बिलकुल ध्यान दें। अब परीक्षा में दस दिन ही बचे रह गये हैं। सारे फॉर्मूला को लिखे और समझ कर याद करें, क्योंकि वस्तुनिष्ठ प्रश्न में 90 फीसदी प्रश्न फार्मूला बेस्ड ही रहते है। अगर 50 फीसदी वस्तुनिष्ठ प्रश्न के उत्तर देते हैं। तो बेहतर अंक प्राप्त करना आसान हो जायेगा ये सलाह गणित के प्रोफेसर केसी सिन्हा ने इंटर परीक्षार्थियों को दी।

आपके अपने अखबार “हिन्दुस्तान’ से बातचीत में उन्होंने कहा कि गणित विषय की परीक्षा में अक्सर बच्चे बड़ा जाते हैं, लेकिन छात्रों को घबराना नहीं चाहिए। क्योंकि अगर कोई चैप्टर आपने अभी तक नहीं पढ़ा या किसी चैप्टर की तैयारी बेहतर नहीं है तो उसके लिए, परेशान नहीं हो। क्योंकि प्रश्न पत्र के हर सेक्शन में दुगुना प्रश्न रहता है। इससे छात्र ने जितना चैप्टर होगा, उस चैप्टर से भी प्रश्न आएगा। उन्होंने कहा कि प्रश्न पत्र में उत्तर लिखावट पर अधिक ध्यान दें। स्पष्ट लिखा होना चाहिए। रफ कार्य के लिए लाइन खींच ले। उसी में रफ के सभी कार्य करें।

BSEB EXAM NEWS UPDATE : वैक्सीन ले चुके छात्र ही दे सकेंगे मैट्रिक और इंटर परीक्षा | Vaccine Le Chuke chhatron ko hi De Sakenge Pariksha

A WHATSAPP ग्रुप ज्वाइन होने के लिए ज्वाइन बटन दवाकर ज्वाइन हो सकते हैं। JOIN
B TELEGRAM CHANNEL ज्वाइन होने के लिए ज्वाइन बटन दवाकर ज्वाइन हो सकते हैं। JOIN
C FACEBOOK PASE ज्वाइन होने के लिए ज्वाइन बटन दवाकर ज्वाइन हो सकते हैं। JOIN
D INSTAGRAM ज्वाइन होने के लिए ज्वाइन बटन दवाकर ज्वाइन हो सकते हैं। JOIN
Leave A Reply

Your email address will not be published.

720 Px X 88Px